National Rural Infrastructure Development Agency

Guidelines on action to be taken on the Reports of the National Quality Monitors

एनक्यूएम की रिपोर्ट पर की जाने वाली कार्यवाही पर दिशानिर्देश

डीपीआईयूस्तर पर निम्नलिखित कार्रवाई की जाएगी (जब तक दर्ज किए जाने योग्य कोई विशेष कारण नहीं हो, ऐसा प्रस्तावित है कि एनक्यूएम रिपोर्ट के किसी भी हिस्से पर कार्रवाई नहीं की जाए)।

  • जिले में निरीक्षणों के संपन्न होने के बाद और एनक्यूएम द्वारा रिपोर्टिंग प्रारूप के भाग- II की प्रतिलिपिपीआईयू को सौंपे जाने के पश्चात, निरीक्षण पूरा करने के पश्चात10 दिनों के भीतर प्रतियां राज्य गुणवत्ता समन्वयक और एनआरआरडीए को भेज दी जाएंगी। यदिपीआईयू निष्कर्ष/सिफारिश से असहमत नहीं हो, तोपीआईयू द्वारा तुरंत सुधार कार्य का आदेश दिया जाना चाहिए। यदि पीआईयू प्रमुख को लगता है कि निरीक्षण रिपोर्ट या सुझाए गए सुधार कार्य का कोई हिस्सा उचित नहीं है, तो वह राज्य गुणवत्ता समन्वयक को पूरी रिपोर्ट देगा।
  • कार्यपालक अभियंता/परियोजना निष्पादन इकाई प्रमुख द्वारा निर्धारित प्रारूप में कार्रवाई रिपोर्ट तैयार की जाएगी और राज्य गुणवत्ता समन्वयक को भेजी जाएगी। राज्य गुणवत्ता नियंत्रण समन्वयक अपनी टिप्पणियां दर्ज करेगा और कार्रवाई विवरण की एक प्रति एनआरआरडीए को भेजेगा।
  • प्रस्तुत की गई कार्रवाई रिपोर्ट व्यापक होनी चाहिए, अर्थात ठेकेदार या अधीनस्थ कार्मिक को मात्र पत्र आदि लिखनेको कार्रवाई नहीं माना जाएगा और इसे कार्रवाई रिपोर्ट के रूप में नहीं देखा जाना चाहिए।

राज्य गुणवत्ता समन्वयकस्तर पर, निम्नलिखित कार्रवाई की जाएगी

  • राष्ट्रीय गुणवत्ता मॉनिटर्स की रिपोर्ट प्राप्त होने पर राज्य गुणवत्ता नियंत्रण समन्वयक परियोजना निष्पादन इकाई/कार्यपालक अभियंता को तुरंत रिपोर्ट के प्रत्येक पैराग्राफ पर कार्रवाई करने और रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए स्मरण कराएगा। वह राष्ट्रीयगुणवत्तामॉनिटरों द्वारा उनकी रिपोर्ट में इंगित सामान्य मुद्दों पर सभी संबंधित व्यक्तियों द्वारा सुधारात्मक कार्रवाई के लिए भी कार्रवाई शुरू करेगा।
  • यदि राष्ट्रीय गुणवत्ता मॉनिटर्सकी रिपोर्ट में इंगित किसी निष्कर्ष/अनुशंसा से असहमति हो, तो इसेएसक्यूएम/एसक्यूसी के परीक्षण परिणामों/निष्कर्षों द्वारा विधिवत रूप से समर्थित करते हुए कार्रवाई रिपोर्ट के भाग के रूप में संप्रेषित किया जाना चाहिए और डीपीआईयू द्वारा राज्य गुणवत्ता समन्वयक के माध्यम से भेजा जाना चाहिए।
  • एसक्यूसी आम तौर पर एसक्यूएम और एसक्यूसी के निष्कर्षों की तुलना करेगा ताकि यह पता लगाया जा सके कि दोनों अनुरूप हैं या नहीं।
  • एसक्यूसीप्रत्येक वर्ष वार्षिक रिपोर्ट तैयार करेगा और मई के पहले सप्ताह में राज्य नोडल एजेंसी के माध्यम से एनआरआरडीएको भेजेगा। रिपोर्ट में एसक्यूएम के प्रदर्शन का विश्लेषण शामिल होगा।इसमें एनक्यूएम/एसक्यूएम रिपोर्टों के माध्यम से पाई गईं/प्रकट की गई सामान्य कमियों, सड़कों की गुणवत्ता और कार्यक्रम निष्पादन में सुधार के लिए संगठनात्मक स्तर पर व्यवस्थागत कमियों को दूर करने के लिए की गई कार्रवाई/अपेक्षित कार्रवाई कावर्णन भी होना चाहिए।
  • एसक्यूसी द्वारा परिशिष्ट च के रूप में कार्रवाई रिपोर्ट के संलग्न प्रोफार्मा में एनआरआरडीए को मासिक विवरण भेजा जाएगा।

एनआरआरडीएस्तर पर, निम्नलिखित क्रियाएं की जा सकती हैं

  • एनक्यूएम रिपोर्ट की जांच के बाद, एनआरआरडीएकार्यों को 'संतोषजनक' या 'असंतोषजनक' के रूप में ग्रेड करेगी। ऐसे सभी मामले जहां काम असंतोषजनक प्रतीत होता हो और अन्य सभी मामले जहां कार्रवाई की अपेक्षाहो, उन्हें एनआरआरडीए द्वारा कार्रवाई करने और कार्रवाई रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए एसओसी को अग्रेषित कर दिया जाएगा।
  • एनआरआरडीएउनके अनुपालन के लिए एसक्यूएम के माध्यम से प्राप्त कार्रवाईरिपोर्ट का विश्लेषण करेगा और यदि आवश्यक हो तो अनुवर्ती कार्रवाई करेगा।
  • एनआरआरडीएसमय-समय पर एनक्यूएम रिपोर्टोंके साथ-साथएसटीए या पीटीए के माध्यम से विश्लेषित वार्षिक गुणवत्ता रिपोर्ट प्राप्त करेगा, जो राज्य में सड़कों की गुणवत्ता और कार्यक्रम निष्पादन में सुधार के लिए संगठनात्मक स्तर पर की जाने वाली व्यवस्थागत कार्रवाई की सिफारिशें करेगी।
Back to top